काबुल एयरपोर्ट पर हमला करने वाला आत्मघाती हमलावर 5 साल पहले दिल्ली में पकड़ा गया था: ISIS-K

आईएसआईएस-के ने अपनी प्रचार पत्रिका के नवीनतम संस्करण में कहा कि पिछले महीने काबुल हवाईअड्डे पर हमला करने वाला आत्मघाती हमलावर पांच साल पहले दिल्ली में पकड़ा गया था।

इस्लामिक स्टेट खुरासान (ISIS-K) ने दावा किया है कि पिछले महीने काबुल एयरपोर्ट पर हमला करने वाला आत्मघाती हमलावर पांच साल पहले दिल्ली में पकड़ा गया था। आईएसआईएस-के ने अपनी प्रचार पत्रिका के नवीनतम संस्करण में कहा कि भारत की एक जेल में सेवा करने के बाद, उसे अफगानिस्तान भेज दिया गया था।

आईएसआईएस-के ने इस साल 26 अगस्त को काबुल में हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के बाहर आत्मघाती हमला किया था। काबुल हवाईअड्डे पर निकासी अभियान के दौरान हुए इस हमले में १८० से अधिक लोग मारे गए थे, जिनमें १३ अमेरिकी समुद्री सैनिक भी शामिल थे।

ISIS-K ने दावा किया कि अब्दुर रहमान अल-लोगरी नाम के आत्मघाती हमलावर को भारत में पांच साल पहले गिरफ्तार किया गया था, जब वह “कश्मीर का बदला लेने के लिए” हमला करने के लिए दिल्ली गया था।

भारत में ISIS-K का प्रचार

इस बीच, आईएसआईएस-के 2020 से अपनी प्रचार पत्रिका प्रकाशित करना जारी रखे हुए है। फरवरी 2020 में दिल्ली दंगों के दौरान एक संस्करण भी निकाला गया था।

बाद में, दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने आईएसआईएस-के के साथ कथित रूप से संबंध रखने के आरोप में एक कश्मीरी जोड़े, जहांजैब सामी (36) और उसकी पत्नी हिंडा बशीर बेघ (39) को गिरफ्तार किया था। एनआईए द्वारा मामले को संभालने और उन सभी को चार्जशीट करने से पहले इसी तरह के आरोपों पर तीन और लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

अब तक पूरे भारत से ISIS-K की प्रोपेगेंडा मैगज़ीन से जुड़े एक दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें…दिल्ली आतंकी मॉड्यूल मामला: एक और अहम आरोपी मुंबई से गिरफ्तार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *